Mohammad ghaznavi history in hindi. मोहम्मद गौरी की मृत्यु कैसे हुई , पृथ्वीराज चौहान ने मोहम्मद गौरी को कैसे मारा 2022-10-25

Mohammad ghaznavi history in hindi Rating: 8,4/10 112 reviews

मोहम्मद ग़ज़नवी एक महत्वपूर्ण इतिहासी व्यक्तित्व हैं, जो की समय के अनुसार हज़रत मौसूमदनियों से एक अधिकांश हिस्सा होते थे। वे समय के अनुसार हिंदुस्तान में स्थित ग़ज़नवी साम्राज्य के शासक थे, जो की संस्कृति, साहित्य, विज्ञान और राजनीति में एक महत्वपूर्ण योगदान देने वाले व्यक्तित्व थे।

मोहम्मद ग़ज़नवी का जन्म 971 ईसा पूर्व में हुआ था, और वे अपने जीवन में बहुत से जटिल समयों में हुए बड़े सफलताओं का सामना करने वाले व्यक्तित्व थे। उन्होंने संस्कृति और साहित्य में अपना एक अहम योगदान दिया

Mahmud Ghaznavi in Hindi : महमूद गजनवी का भारत पर 17 बार आक्रमण

mohammad ghaznavi history in hindi

Usake bhaarat par aakramaṇa kaa pramukh kaaraṇa bhaarat kee vishaal dhan-sampadaa thee. मथुरा एवं कन्नौज प्रतिहार राज्यपाल तेरहवा 1019 ई. में महमूद ग़ज़नवी ने मुल्तान के शासक दाऊद के विरुद्ध मार्च किया। इस आक्रमण के दौरान उसने भटिण्डा के शासक आनन्दपाल को पराजित किया और बाद में दाऊद को पराजित कर उसे अधीनता स्वीकार करने के लिए बाध्य कर दिया। पाँचवा आक्रमण 1007 ई. Due to this Mahmood Ghaznavi is considered as a looter and plunder by the most of the non-Muslims of South Asia. थानेश्वर राजाराम दसवा 1014 ई. मुल्तान सुखपाल छठा 1008-1009 ई. Unhonne usake pitaa kaa naam subuktgeen thaa.

Next

Mahmud Ghaznavi in Hindi

mohammad ghaznavi history in hindi

कश्मीर स्त्री शासिका पन्द्रहवा 1022 ई. The main objective of his attacks was to plunder the wealth of Ghaznavi. Mahmud Ghaznavi was the king of Ghazni who ruled from 971 to 1030 AD. भटिंडा विजयराय चौथा 1006 ई. Mahmood Ghazni was the son of Abu Mansur Sabuktigin, who was a Turkish slave soldier of the samanid ruler. त्रिलोचनपाल अंतिम शाही राजा जिसे महमूद के द्वारा अजमेर को पलायन करने के लिए मजबूर किया गया था. Usane bhaarat par aakramaṇa kiyaa aur raajapoot shaasak aanndapaal aur usake chhah raajapoot sahayogiyon ujjain, gvaaliyar, dillee, kaalinjar, ajamer aur kannauj, jinhen raajapoot mahaasngh ke roop men jaanaa jaataa hai ko paraajit kiyaa.

Next

Mahmud Of Ghazni History In Hindi

mohammad ghaznavi history in hindi

ग्वालियर एवं कालिंजर गंड चंदेल सोलहवा 1025 ई. He defeated Hindu ruler Jaya Pala, who committed suicide himself later and was succeeded by his son Anandpala. The booty of war was used to consolidate the power of the state. In 994 Mahmood joined his father in the conquest of Ghazni for Samanid ruler, it was the time of instability for Samanid Empire. He destroyed the temples of Somnath, Kangra, Mathura and Jwalamukhi to earn the nickname of Idol Breaker. में सुखपाल ने अपनी स्वतंत्रता की घोषणा कर दी थी। महमूद ग़ज़नवी ने ओहिन्द पर आक्रमण किया और नौशाशाह को बन्दी बना लिया गया। छठा आक्रमण 1008 ई.


Next

Mahmud of Ghazni History in Hindi

mohammad ghaznavi history in hindi

मुहम्मद गज़नवी के आक्रमण के अलावा यह भी संभावना जताई जाती है की राजपूत राजाओं के राजनीतिक एकता के अभाव ने भविष्य में भी अन्य आक्रमणों को आमंत्रित किया. मुल्तान सुखपाल नवा 1013-1014 ई. He also exposed the weakness of Hindu rajas, which enabled the Muslim leaders to conquer India in future. Usakaa agalaa abhiyaan naagarakoṭ thaa jisakee looṭ ke lie usane 1009 iisvee men hamalaa kiyaa. फ़िरदौसी महमूद के दरबार में राज कवि था. मुल्तान दाऊद करमाक्षी पांचवा 1007-1008 ई.

Next

मुहम्मद पैगंबर मुस्लिम धर्म के नबी

mohammad ghaznavi history in hindi

He was attracted to the enormous wealth of India. में काठियावाड़ के महमूद ने सोमनाथ मंदिर का शिवलिंग तोड़ डाला। मंदिर को ध्वस्त किया। हज़ारों पुजारी मौत के घाट उतार दिए और वह मंदिर का सोना और भारी ख़ज़ाना लूटकर ले गया। अकेले सोमनाथ से उसे अब तक की सभी लूटों से अधिक धन मिला था। उसका अंतिम आक्रमण 1027 ई. Mohammad gori aur gajni dono ki ek hi ranniti thi. Phairadausee mahamood ke darabaar men raaj kavi thaa. . Thus Mahmood established a strong Muslim empire, which was lasted for hundreds years.

Next

महमूद ग़ज़नवी का इतिहास, जानकारी

mohammad ghaznavi history in hindi

महमूद गजनवी ने 1021 ईस्वी में त्रिलोचनपाल पर हमला किया और उसे हराया. He attacked South Asia seventeen times successfully and went back to Ghazni every time with a great victory. महमूद गजनवी ने भारत पर हमला क्यों किया? में जब गुजरात पर किया तब उनका सामना मूलराज द्वितीय से हुआ। उन्होंने गौरी को आबू पर्वत की तराई में हराया था। फलतः मोहम्मद गौरी को सबसे पहला पराजय भारत के मूलराज द्वितीय का हाथों में हुई। इन्हें भी पढ़ें मोहम्मद गौरी किस वंश का शासक था मोहम्मद गौरी कौन था मोहम्मद गौरी और पृथ्वीराज चौहान १५० मोहम्मद गौरी का जन्म कहाँ हुआ था मोहम्मद गौरी का सेनापति कौन था मोहम्मद गौरी और पृथ्वीराज चौहान का युद्ध. Why Mahmud Ghaznavi attacked India? These all made him the Hero for the Muslims of South Asia. Is vijay ke pashchaat vah pnjaab, sindh aur multaan ke nirvivaad shaasak ke roop men sthaapit ho gayaa. Lahore also became a great center of learning and culture.

Next

Mahmood Ghaznavi

mohammad ghaznavi history in hindi

This made him repeatedly raid India. Bhaarat par gajanavee ke aakramaṇa kaa prabhaav. He also established his provincial headquarters at Lahore. It also revealed that there was no political unity in India and it invited more attacks in future. Mahmud attacked the Hindu Temples in India because of political and not religious reasons. Mahamood gajanavee ne 1021 iisvee men trilochanapaal par hamalaa kiyaa aur use haraayaa.

Next

Mahmud Ghaznavi (971 to 1030 AD)

mohammad ghaznavi history in hindi

अजमेर, ग्वालियर और कालिंजर पर छापा मारने के अलावा वह सोमनाथ मंदिर को भी दुर्दमनीय तरीके से लूटा और इसे नष्ट कर दिया. अपने अंतिम आक्रमण के दौरान मलेरिया के कारण 1030 ईसवी में उसका निधन हो गया. He also added religious dimension to his invasion of India. सोमनाथ पर किया। उसने वहां के प्रसिद्ध मंदिरों को तोड़ा और वहां अपार धन प्राप्त किया। यह भी कहा जाता है कि इस मंदिर को लूटते समय महमूद ने लगभग 50,000 हिन्दुओं का कत्ल कर दिया था। इसकी चर्चा पूरे देश में आग की तरह फैल गई। उस समय गुजरात के राजा भीमसेन प्रथम थे। इसके बाद 1015 ई. किंवदंतियों के अनुसार सोमनाथ के शिवलिंग के भग्नावशेषों को ले जाकर उसने ग़ज़नी के जामा मस्जिद का हिस्सा बनवाया. में उसने पुनः कन्नौज पर आक्रमण किया। वहाँ के शासक राज्यपाल ने बिना युद्ध किए ही आत्मसमर्पण कर दिया। राज्यपाल द्धारा इस आत्मसमर्पण से कालिंजर का चंदेल शासक क्रोधित हो गया। उसने ग्वालियर के शासक के साथ संधि कर कन्नौज पर आक्रमण कर दिया और राज्यपाल को मार डाला। तेरहवाँ आक्रमण 1020 ई.

Next

महमूद ग़ज़नवी का इतिहास

mohammad ghaznavi history in hindi

He had respect for other religions. Mahmud of Ghazni destroyed and looted one of the most sacred temples of Hindus- Somnath Temple in 1025 AD killing over 50,000 people who tried to defend it. उन्होंने उसके पिता का नाम सुबुक्त्गीन था. सोमनाथ के मंदिर पर भीमदेव सतरहवा 1026 ई. में उसने सोमनाथ पर आक्रामण किया था। उस समय काठियावाड़ का शासक भीमदेव था जो भाग गया था। उसके बाद उसने 1027 ई. Uska mukhya udeeshya yhi tha ki wo bhart ke sbhi mndiro ko tod kr masjid bnwaye.


Next