Essay on quality in hindi. Essay on quality month in English with examples 2022-10-15

Essay on quality in hindi Rating: 7,3/10 597 reviews

गुणवत्ता एक ऐसा शब्द है जो हमारे जीवन में अहम योगदान है। यह हमारे जीवन की हर एक क्षेत्र में हमारे सफलता का आधार होता है। जैसे ही हम अपने जीवन में गुणवत्ता का ध्यान रखते हैं, हमारी सफलता भी बढ़ती है और हम अपनी जगह से बेहतर होते हैं।

गुणवत्ता हमारे जीवन में अनेक स्तरों पर होती है। हमारे जीवन की हर एक चीज में गुणवत्ता होता है, जैसे ही हमारी खान-पान, स्वास्थ्य, शिक्षा, व्यवसाय, संपर्क और सम्पर्क से होती है। गुणवत्ता हमारी सफलता और सुख-समृद्धि की अग्रणी है।

हमारे जीवन में गुणवत्ता की महत्ता को समझा

Translate essay on quality in Hindi with examples

essay on quality in hindi

Inspection is a determining function which determines raw materials, supplies, parts or finished products etc. Quality problems are of following two types: 1. Maintenance of programme to ensure that the objectives of higher quality at lower cost. Quality plan is a document setting out the specific quality practices, resources and activities relevant to a par­ticular product, process, services, contract or project. I, inspectors carry out sudden inspections of the factories of the licensee. हिंदुओं का पवित्र धार्मिक पर्व होली 2. Product Quality Analysis : It includes: i The various functions to be performed by the manufactured product.

Next

Holi Essay in Hindi

essay on quality in hindi

Develop Quality assurance system and regularly evaluate its effectiveness. Plan and coordinate vendor quality surveys and evaluate their results. धुलैंडी होली से अगला दिन अर्थात चैत्र की प्रतिपदा को लोग रंग खेलते हैं। इसे धुलैंडी कहते हैं । लोग एक दूसरे से मिलने के लिए उनके घर जाते हैं जहां गुलाल और रंग से उनका स्वागत किया जाता है इस दिन लोग अपनी शत्रुता भूलकर शत्रु को भी गले लगाते हैं। होली के रंग में रंगकर धनी-निर्धन, काले-गोरे, ऊंच-नीच, बालक-वृद्ध के बीच की सीमा टूट जाती है, और सभी खुले भाव से एक दूसरे का सत्कार ,आदर करते हुए इस पर्व का आनंद लेते है। 4. Procedures and norms for plant performances as regards to quality be developed. Both quality control and inspection are used to assure quality.


Next

Translate essay on quality month in Hindi with examples

essay on quality in hindi

Sporadic Problems: A sporadic problem is a sudden adverse change in the status quo, which requires remedy. It also includes the examination of quality characteristics in finished products so as to assure satisfactory outgoing quality. Hindi is a very beautiful language, its very aesthetic in its tone. In some countries these associations, receive official support and guidance. Advantages of Quality Control : There are many advantages by controlling the product quality. The majority of the north Indians speak Hindi. Yes, English is indeed a global language, it gives you a way to reach out to the diverse domains and spheres, but one should not forget the importance and the identity of Indians that is very much inherently rooted in the language- Hindi Conclusion of the essay Hindi is comparatively a complex language, people far across from the world come to India and invest their time and lives in learning our language- Hindi.

Next

गुणवत्ता पर निबंध (Essay on quality in Hindi)

essay on quality in hindi

Fixed costs of sampling, inspecting, testing and measuring. Quality at level Y is the most economical. बड़े दुख की बात है कि आज होली का रूप विकृत हो रहा हैI बड़े दुर्भाग्य की बात है कि आजकल होली का रूप बिगड़ गया है। लोग रासायनिक रंगों का प्रयोग करने लगे हैं, बच्चे गुब्बारे मारते हैं। कुछ लोग कीचड़ आदि भी डालते हैं। अनेक व्यक्ति शराब,गांजा,भांग,चरस आदि का सेवन करते हैं, गंदे गाने गाते हैं तथा गाली-गलौज करते हैं। हमें शीघ्र-अतिशीघ्र इस त्यौहार से इन बुराइयों को दूर करना चाहिए तभी हम होली जैसे पवित्र त्यौहार कि पवित्रता को संजो के रख सकते है। होली प्रेम व भाईचारे का त्यौहार है, रंगों का त्यौहार है, हर्षोल्लास का त्यौहार है। होली का गुलाबी रंग प्रेम का प्रतीक है। होली मनुष्यों को आपस में जोड़ने का त्यौहार है कवि मैथिलीशरण गुप्त होली का सजीव चित्रण इन पंक्तियों में प्रकट करते हैं: काली- काली कोयल बोली, होली, होली, होली । फूटा यौवन फाड़ प्रकृति की पीली, पीली, चोली। । ये भी पढ़े : ३००+ मुहावरे यह Holi Essay in Hindi पर हमारा दूसरा नमूना था I आईये तीसरे नमूने पर चलते है। होली पर निबंध सैंपल 3 होली का त्यौहार संकेत बिंदु : 1. होली का इतिहास होली के इतिहास कि बात करें तो माना जाता है कि हरिण्यकश्यप नाम का एक शैतान राजा था। जिसे अपनी ताकत का बेहद घमंड था। उनका एक बेटा था जिसका नाम प्रह्लाद था और एक बहन थी जिसका नाम होलिका था। प्रह्लाद विष्णु भगवान का भक्त था। शैतान राजा को ब्रह्मा का आशीर्वाद था कि कोई भी आदमी , जानवर या हथियार उसे मार नहीं सकता था। लेकिन ये आशीर्वाद उसके लिए अभिशाप बन गया। घमंड के कारण हरिण्यकश्यप ने अपनी प्रजा को ये आदेश दिया कि राज्य में भगवान कि नहीं राजा कि पूजा कि जाए और इसी आदेश के चलते राजा ने अपने पुत्र को मार डालने का भी प्रयास किया क्योकि वे विष्णु भगवान कि पूजा में विश्वास रखता था। लेकिन उसकी ये चाल कामयाब न हो पाई। 3. Economics of Quality 9. ADVERTISEMENTS: In Quality control programme, inspection data are used to take prompt corrective action to check the defects. Rather, besides education, it is also important to have good qualities in people.


Next

Essay on quality month in English with examples

essay on quality in hindi

Liaise with different department, in and outside the organisation. B External Failure Costs: i Warranty charges. Inspectors may check the incoming raw materials, outgoing finished products and may carry out necessary tests at different levels of control during production. Quality planning is a systematic process for: i Identifying customers, ii Discovering customer needs, iii Designing the responsive products, iv Developing the process for creating and delivering the products, and v Transferring the process and its contents to those who will perform the product or service. Causes of Quality Failures : Quality failures occur due to various causes, most of them are because of lack of involve­ment of men concerned with the quality. Failure Costs : A Internal Failure Costs: i Scrap and rework cost.

Next

Essay on Hindi Language in English (हिंदी भाषा पर निबंध)

essay on quality in hindi

होली से जुड़ी कथाएं प्राचीन काल में हिरण्यकश्यप नामक अत्यंत बलशाली राजा था। अपनी शक्ति के घमंड में चूर होकर वह स्वयं को भगवान मानने लगा। वो चाहता था कि उसकी प्रजा भगवान के स्थान पर उसकी पूजा करे, परंतु उसका अपना पुत्र प्रहलाद ईश्वर भक्त था । हिरण्यकश्यप नेप्रहलाद का वध करने के अनेक उपाय किए, परंतु वह सफल ना हो सका। फिर उसने प्रहलाद को आग में जलाकर मार डालना चाहा। हिरण्यकश्यप की एक बहन थी जिसका नाम होलिका था।होलिका को यह वरदान प्राप्त था कि वह आग में नहीं जल सकती। हिरण्यकश्यप के आदेश पर होलिका प्रहलाद को गोद में लेकर लकड़ियों के ढेर में बैठ गई। उस ढेर में आग लगा दी गई परंतु भगवान की लीला तो अद्भुत है ।जिस होलिका को आग में न जलने का वरदान प्राप्त था, वह तो जल गई और प्रहलाद का बाल बांका भी नहीं हुआ। फाल्गुन की पूर्णिमा के दिन स्त्रियां व्रत रखती है और होली पूजने जाती है। किसी चौक में अथवा खुले स्थान पर लकड़ियों के ढेर या उपलो से होली बनाई जाती है। रात्रि के समय निश्चित समय पर होलिका जलाई जाती है और होली की आग में गेहूं तथा चने की बालियां डाली जाने की परंपरा है। इसे होलिका दहन कहते हैं। 3. होली के पवित्र होने का कारण आदि शामिल कर सकते है। आईये इस बारे में विस्तार से जानते है और निबंध लिखने की सही प्रक्रिया को जानते है हमने इस ब्लॉग में कुछ सैंपल भी जोड़ें है आप उन्हें भी ज़रूर देखें। होली पर निबंध सैंपल 1 होली: रंगों का त्योहार संकेत बिंदु: 1. At present some organisations lite Export Inspection Council of India, the Indian Stan­dards Institution, the Indian Society of Quality Control and the Indian Institute of Foreign Trade are helping about this problem of quality control. Quality Job Today, art sports are also taken into account and there are many such government jobs in India, in which they promise to give jobs according to sports. Whereas Quality Control is aimed at prevention of defects at the very source, relies on effective feedback system, and procedure for corrective action. Introduction There are different types of subjects in every class, in which Marathi medium, English medium, and Hindi medium are present, but they are only one medium of instruction. Variable cost of sampling, measuring, calculating and plotting each sample value on control charts.

Next

Translate essay on quality control in Hindi with examples

essay on quality in hindi

Hindi- Our mother tongue Now, though learning Hindi comes across less fashionable, people are getting more fascinated by foreign languages and forgetting the essence of Hindi. Quality Assurance : Inspection, Quality Control and Quality Assurance: Inspection is a process of sorting good from a lot. हिंदुओं का पवित्र धार्मिक पर्व होली राग-रंग का पर्व होली हिंदुओं का लोकप्रिय पर्व है। होली आनंद उत्साह का, मौज, मस्ती और रंगों से सराबोर महोत्सव है। वास्तव में होलिका दहन और होलिकोत्सव, नास्तिकता पर आस्तिकता का, बुराई पर भलाई का, पाप पर पुण्य का तथा दानवता पर देवत्व की विजय का मांगलिक पर्व है । होली का त्यौहार फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है यह पर्व बसंत के आगमन का संदेशवाहक है। यह त्यौहार पूर्णिमा से पूर्व बसंत पंचमी से ही शुरू हो जाता है। होली का पर्व किस खुशी में मनाया जाता है, इसके विषय में अनेक कथाएं प्रचलित है। एक कथा के अनुसार भगवान कृष्ण ने दुष्टों का वध कर गोपियों के साथ रास रचाया तब से होली का प्रचलन हुआ, परंतु होली के विषय में सबसे प्रसिद्ध कथा इस प्रकार है 2. Cost of correcting and assignable cause. Uniformity in quality can be achieved. These reasons have neces­sitated the need for total quality and reliability programmes to cover wide spectrum of func­tions and various areas of product design, production system design through various states of material, manufacture and commitment to efficient maintenance and operation of the system as a whole.

Next

Essay on Quality Control of Products: Top 13 Essays

essay on quality in hindi

Quality products can be produced only when all the departments fully participate and co-operate. प्रस्तावना होली का त्यौहार रंगों का त्योहार है, जो बसंत ऋतु में मनाया जाता है । प्रकृति में रंग-बिरंगे फूल बसंत के आगमन का मानो हृदय से स्वागत करते हैं। बसंत के रंगों का प्रतीक बनकर यह त्योहार हर साल फागुन मास की पूर्णिमा के दिन बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। इसीलिए फागुन का महीना मौज-मस्ती का महीना कहा जाता है। 2. भारतीय संस्कृति में हर त्यौहार, हर पर्व का एक अलग महत्व है और हर किसी के पीछे एक दिलचस्प कहानी जुड़ी है। त्यौहार लोगो को एक जुट करके एकत्र होने की और हमारी धरोहर से हमें जोड़े रखने की एक बेजोड़ कोशिश है। जिसे सभी भारतवासी हर्ष और उल्लास से मनाते है । फिर चाहे वो दीपावली हो जब भारत का हर घर जगमगाता हुआ, बच्चे पटाखे जलाते हुए और सभी खुशियां मनाते नज़र आते है या वो स्वतंत्रता दिवस हो जब सभी भारतीय पतंगबाज़ी के रूप में अपनी आज़ादी का जश्न मनाते हुए दिखते है। इन्ही त्यौहारों में एक है होली का त्यौहार। होली रंगो का त्यौहार है जिसे हर धर्म हर जाती के लोग उत्साह और मस्ती से मनाते है। हर त्यौहार की भाति इस त्यौहार का मकसद भी हर धर्म , सम्प्रदा और जाती के बंधन खोलकर एकत्र होना और दुनिया भर में प्रेम का सन्देश देना है। इस दिन सभी अपने पुराने गिले शिकवे छोड़ एक दूसरे के गले मिलकर गुलाल लगाते है। निबंध लेखन की बात की जाए तो होली का त्यौहार एक अच्छा विषय साबित हो सकता है। कई परीक्षाओ में इस विषय पर निबंध लिखने को कहा जाता है। इस निबंध में आप होली का पर्व क्यों मनाया जाता है? Concluding, we can say that quality control is a technique of management for achieving required standard of products. The quality of a product differs greatly due to these factors. युवाओं में होली को लेकर उत्साह 1. If a person has good and complete education qualities, then he himself will be the owner of a company and will give jobs to the people. प्रस्तावना हर कक्षा में भिन्न-भिन्न प्रकार के विषय होते हैं, जिसमें मराठी माध्यम , इंग्लिश माध्यम, हिंदी माध्यम मौजूद होता है, पर ये सिर्फ एक शिक्षा के माध्यम होते हैं। बल्कि इस तरह के अनेकों भाषाएं होते हैं, जो पैसे के कारण छोटे स्कूलो के बच्चो को शिक्षित करते हैं। इस के मुताबिक ही हमारी गुणवत्ता तय की जाती हे। हमे एक कक्षा से दुसरी कक्षा में एक अच्छे अंक की प्राप्ति से ही प्रवेश मिलता है, जिसके गुण को देखकर एक गुणवत्ता निर्धारित होती हे। यदि हममें न्यूनतम गुण हो तो फिर पढाई बहुत ही मुश्किल पड़ जाती हे। अच्छे गुण की गुणवत्ता आज केवल शिक्षा पूरी करना ही आवश्यक नहीं रह गया है। बल्कि शिक्षा के अलावा लोगों में अच्छे गुण होना भी महत्व रखता है। जिसका कारण यह है कि, आने वाले भविष्य में हमें नौकरी के लिये इन सब की आवश्यकता होने वाली है। एक इंसान में यदि अच्छा व सम्पूर्ण शिक्षा गुण हो तो ख़ुद ही एक कंपनी का मालिक होगा और लोगों को नौकरी देगा। गुणवत्ता शिक्षा के मुताबिक आज के समय में केवल बच्चो का नही तो शिक्षक व माता पिता कि गुणवत्ता होना बेहद आवश्यक माना जाता हे। बच्चों को वाकई में क्या सिखाया जाए ये एक शिक्षक पर निर्भर होता हे और उसे कैसे अपने बच्चो को सीख देनी है, ये माता पिता पर निर्भर करता हे। बहोत सारी ऐसी स्कूल है जहा अलग से ऐसे गुणवत्ता विषय पे अलग से क्लासेस लिये जाते हे, ताकी कोई बच्चा कमजोर ना पडे। गुणवत्ता के मुताबिक नौकरी आज कला क्रीडा को भी ध्यान मे रखा जाता है और हमारे भारत मे कई सारी ऐसी सरकारी नौकरियां मौजूद हैं, जिसमे खेल के मुताबिक ही नौकरी देने का वादा करते हैं। अगर कोई किसी खेल मे बहुत ही गौरव हासिल किया हे, तो उसके गुणवत्ता के मुताबिक ही उसे नौकरी मिलने का अवसर दिया जाता हे, जिसमें उसे अपनी शारीरिक गुणवत्ता दिखाने की ज़रूरत होती है। ऐसा होता है कि, सरकारी नौकरी मे खिलाडी को 4 प्रतिशत जगह दी जाती है और.

Next